Open TAABAR TOLI page in New Tab for Large Image Size
[ 1. Right Click on Image >>> 2. Select "Open in New Tab" ]

सोमवार, अप्रैल 26, 2010

Taabar Toli 16 - 30 April 2010 Page 2

1 टिप्पणी:

  1. द्रोण की दक्षिणा.................

    विश्वास के आँचल में
    अँगूठा कटवाकर कल
    जिसने दी थी गुरु को दक्षिणा
    आज
    माउस पर दबी अंगुलि को
    कटने से बचाने के लिए
    भाग रहा है जो
    वो एकलव्य है

    मूँछों पर ताव देता
    राजाओं और उच्च जाति के बच्चों के लिए
    अंगुलि की दक्षिणा मांगता
    पीछे भाग रहा जो
    वो द्रोण है

    सुनहरे भविष्य की चमकती धूप में
    क्षितिज के ऊपर कैसे उतारू
    मै जाति का कफन ........

    उत्तर देंहटाएं